By | July 11, 2020

हिमाचल में कोरोना काल में बस किराया 25 प्रतिशत तक बढ़ाने को मंजूरी,

हिमाचल कैबिनेट ने शुक्रवार को बसों का किराया 25 फीसदी तक बढ़ाने को मंजूरी दे दी है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में शुक्रवार देर शाम आयोजित मंत्रिमंडल की बैठक में यह फैसला लिया गया। सरकार के इस फैसले के बाद राज्य की जनता पर और बोझ पड़ने जा रहा हैकोरोना काल के बीच प्रदेश की जनता पहले से ही आर्थिक तंगी के दौर से गुजर रही है, ऊपर से बसों का इतना ज्यादा किराया बढ़ाने से लोगों पर और बोझ पड़ेगा।पिछले कई दिनों से निजी बस ऑपरेटर बसों का किराया 50 फीसदी बढ़ाने की मांग कर रहे थे। हालांकि तब बसों में 60 फीसदी सवारियों को बिठाने की व्यवस्था सरकार ने की थी। बस ऑपरेटर बसों का खर्चा पूरा न होने की दुहाई देकर बसें नहीं चलाने पर अड़े थे। अब प्रदेश सरकार ने बसों में 100 फीसदी सवारियां बिठाने
को मंजूरी दे दी है।राज्य में इस समय साधारण बसों का किराया मैदानी इलाकों में प्रति किमी 1.12रुपये और पहाड़ियों में 1.75 रुपये है। इसी तरह, मैदानी इलाकों में डीलक्स बसों का किराया 1.37 रुपये प्रति किमी और पहाड़ी इलाके में 2.17 रुपये प्रति किमी है। वोल्वो और वातानुकूलित बसों के लिए,
मैदानों में किराया 2.74 रुपये प्रति किमी और पहाड़ी इलाके में 3.62 रुपये है। वहीं न्यूनतम बस का किराया पांच रुपये है। उल्लेखनीय है कि राज्य परिवहन निगम के बेड़े में इस समय 3300 बसें हैं। इनके अलावा 3100 निजी बसें सड़कों चल रही हैं। खर्चे ज्यादा होने के कारण कई निजी ऑपरेटर बसें नहीं चला रहे हैं और केवल 800 के करीब बसें ही चल रही हैं। अब किराया बढ़ने से राज्य में सभी निजी बसों के सड़कों पर उतरने की सम्भावना है।

 

 

by divyahimachal

Total Page Visits: 1117 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *