लंबे समय से नाराज चल रहीं अलका लांबा आखिरकार देंगी आम आदमी पार्टी से इस्तीफा

लंबे समय से नाराज चल रहीं अलका लांबा आखिरकार देंगी आम आदमी पार्टी से इस्तीफा

आम आदमी की विधायक अलका लांबा का आखिरकार आम आदमी पार्टी से मोह भंग हो चुका है और वो जल्द ही इस्तीफा दे सकती हैं.  अलका लांबा ने कहा कि उन्हें लगता है कि उन्हें इस बारे में लोगों से बात करनी चाहिए और फिर एक डिसीजन पर आना चाहिए. अब यह तय हो चुका है कि वो आम आदमी पार्टी की प्राथमिक सदस्यता छोड़ देंगी. इसके बावजूद वो एमएलए बनी रहेंगी.

इसके बावजूद वो एमएलए बनी रहेंगी.                                                                                                                                                                       अलका लांबा ने दावा किया था कि अरविंद केजरीवाल से जब बात की तो केजरीवाल ने मुझे पार्टी छोड़ने के लिए कहा. इसके बाद लोकसभा चुनाव के दौरान भी अलका लांबा और आप नेता सौरभ भारद्वाज आमने-सामने आ गए थे. लांबा ने कांग्रेस में जाने की इच्छा जताई थी. उन्होंने आज कहा, ”मैंने सोचा कि मुझे लोगों से बात करनी चाहिए और निर्णय लेना चाहिए. फैसला लिया गया कि मुझे आम आदमी पार्टी से सभी तरह के संबंध तोड़ लेने चाहिए और अपनी प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे देना चाहिए. मैं AAP की प्राथमिक सदस्यता से अपना इस्तीफा जल्द ही लिखूंगा. मैं विधायक बना रहूंगी,

पहले भी कई बार अलका आम आदमी पार्टी से इस्तीफे की बात कही है.
इसके पहले अलका ने लोकसभा चुनाव में दिल्ली, हरियाणा और पंजाब में बुरी तरह हारने के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अब अपनों के निशाने पर लिया था.  आम आदमी पार्टी से नाराज चल रहीं विधायक अलका लांबा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को हार की जिम्मेदारी लेने की बात कही थी. इसके साथ ही उन्होंने संजय सिंह को नया पार्टी संयोजक बनाने की मांग की. बता दें कि अलका लांबा चांदनी चौक से आम आदमी पार्टी की विधायक हैं और पहले भी कई बार अलका  आम आदमी पार्टी से इस्तीफे की बात कही है.

461total visits,9visits today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *