By | April 19, 2020

कोरोना वायरस संक्रमण के लिए जो लोगो पर दवाइयों का छिड़काव कर रहे है वो छिड़काव हानिकारक हो सकता है  स्वास्थ्य मंत्रालय,

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने लोगों को कोरोना वायरस संक्रमण से बचाने के लिए उन पर दवाइयों का छिड़काव किए जाने के खिलाफ परामर्श जारी किया है। मंत्रालय ने कहा है कि यह शारीरिक एवं मानसिक रूप सेनुकसानदायक है.एडवाइजरी में कहा गया है कि यदि कोई व्यक्ति कोरोना वायरस के संपर्क में आ गया है तो उसके शरीर पर दवाइयों का छिड़काव करने से भी उसके शरीर में प्रवेश कर चुका वायरस नहीं खत्म होगा. कि ऐसा कोई वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं है जो इसकी पुष्टि करे कि इससे शरीर का बाहरी हिस्सा संक्रमण से मुक्त हो जाता है। मंत्रालय ने कहा कि लोगों को संक्रमण से बचाने के लिए या उन्हें संक्रमण मुक्त करने के लिए सोडियम हाइपोक्लोराइट जैसी दवाइयों के छिड़काव के प्रभाव के संबंध में हमारे पास कई सवाल आए थे। मंत्रालय ने कहा,इस रणनीति को मीडिया में काफी तवज्जो मिल रही है और कुछ जिलों और स्थानीय निकायों के क्षेत्र में इसका इस्तेमाल भी हो रहा है।व्यक्तियों और समूह पर किसी भी सूरत में ऐसी दवाइयों का छिड़काव करने की सलाह नहीं दी जाती है. किसी भी व्यक्ति या समूह पर रासायनिक घोल का छिड़काव शारीरिक एवं मानसिक रूप से नुकसान पहुंचाता है.

Total Page Visits: 788 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *