By | September 5, 2020

वरना आपका बैंक अकाउंट हो जाएगा खाली ऐसे बचें सिम स्वैप के धोखे से,

पिछले कुछ दिनों की खबरों पर नजर डालें तो सिम स्वैपिंग की कई सारी घटनाएं आपको मिल जाएंगी। हाल ही में सिम स्वैप करके कई लोगों को लाखों रूपये का चूना लगाया गया है। अब सवाल यह है कि आखिर सिम स्वैपिंग क्या है और इसके जरिए किस तरह लोगों को चोर ठग रहे हैं। आइए जानते हैं।सिम स्वैप होने का मतलब है कि कोई दूसरा सिम कार्ड आपके फोन नंबर पर दर्ज हो जाए। ऐसा होते ही आपका सिम इनवैलिड या अवैध हो जाएगा, उसमें सिग्नल आने बंद हो जाएंगे। वहीं दूसरी तरफ, अब सारे ओटीपी, मैसेज, कॉल वगैरह उस दूसरे सिम पर आने लगेंगे जिसे आपके नंबर पर रजिस्टर किया गया है। याद कीजिए आपने खुद ऐसा किया होगा जब आपने अपने 2जी सिम को 3जी या 4जी सिम में बदला होगा। अंतर यह है कि तब आपने अपनी मर्जी से अपने टेलिफोन ऑपरेटर कंपनी के साथ बात करके ऐसा किया होगा लेकिन इस फ्रॉड में कोई अजनबी फोन करके आपको ऐसा करने को कहता है। अब हम आपको बताते हैं कुछ ऐसे संकेत जिन्हें भांपकर आप तुरंत समझ जाएंगे कि आपको मूर्ख बनाया जा रहा है :दरअसल इस तरह की ठगी में ठग के पास आपका बैंक अकाउंट नंबर या एटीएम कार्ड नंबर पहले से होता है, बस जरूरत होती है तो एक ओटीपी की और यह ओटीपी उसके सिम स्वैप करने से मिल जाता है। इसके बाद वह आपके नंबर पर ओटीपी मंगाता है और मस्त शॉपिंग करता है।स तरह हम जरा सी सावधानी और सजगता का इस्तेमाल करके बड़े नुकसान से बच सकते हैं।

Total Page Visits: 392 - Today Page Visits: 3

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *