By | March 30, 2020

कोरोना के कहर के बीच इटली से 263 भारतीयों को वापस लाईं मोदी जिनके फैन हो गए

कोविड-19 के प्रकोप से तबाह हुए इटली से 263 भारतीयों को स्वाति वापस देश लेकर आई हैं। एयर इंडिया की कमर्शल पायलट स्वाति रावल दो बच्चों की मां हैं और उन्होंने रायबरेली से  कमर्शल पायलट ट्रेनिंग ली थी। स्वाति 2006 से एयर इंडिया के साथ काम कर रही हैं। कोविड-19 के प्रकोप से तबाह हुए इटली से 263 भारतीयों को स्वाति वापस देश लेकर आई हैं। एयर इंडिया की कमर्शल पायलट स्वाति रावल दो बच्चों की मां हैं और उन्होंने रायबरेली से कमर्शल पायलट ट्रेनिंग ली थी। स्वाति 2006 से एयर इंडिया के साथ काम कर रही हैं। हर किसी ने फ्लाइट की टीम को बधाई दी, लेकिन सबसे ज्यादा बात इस वक्त कैप्टन स्वाति रावल पर हो रही है. क्यों? क्योंकि वो इस विमान की पायलट थीं. को-पायलट कैप्टन राजा चौहान के साथ मिलकर उन्होंने एयरलिफ्ट के इस ऑपरेशन को कामयाब किया. इसके साथ ही रेस्क्यू फ्लाइट उड़ाने वाली पहली सिविल महिला पायलट बन गई हैं.

 

पीएम नरेंद्र मोदी भी कैप्टन के फैन हो चुके हैं. दरअसल, नारगिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बोइंग 777 के क्रू की कुछ तस्वीरों को ट्वीट करके उन्हें बधाई दी थी. इसमें उन्होंने कैप्टन स्वाति और कैप्टन राजा को खासतौर पर मेंशन किया था. उन्होंने लिखा था, हर किसी ने फ्लाइट की टीम को बधाई दी, लेकिन सबसे ज्यादा बात इस वक्त कैप्टन स्वाति रावल पर हो रही है. क्यों? क्योंकि वो इस विमान की पायलट थीं. को-पायलट कैप्टन राजा चौहान के साथ मिलकर उन्होंने एयरलिफ्ट के इस ऑपरेशन को कामयाब किया. इसके साथ ही रेस्क्यू फ्लाइट उड़ाने वाली पहली सिविल महिला पायलट बन गई हैं.पीएम नरेंद्र मोदी भी कैप्टन के फैन हो चुके हैं. दरअसल, नारगिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बोइंग 777 के क्रू की कुछ तस्वीरों को ट्वीट करके उन्हें बधाई दी थी. इसमें उन्होंने कैप्टन स्वाति और कैप्टन राजा को खासतौर पर मेंशन किया था.

Total Page Visits: 662 - Today Page Visits: 3

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *