By | April 7, 2020

हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा पर ट्रंप ने दी चेतावनी नहीं भेजी कोरोना से लड़ने की दवा तो भुगतना होगा अंजाम

दिल्ली: अमेरिका  में कोरोनावायरस  का कहर तेजी से फैल रहा है. इस बीच, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत से कोरोना के मरीजों के इलाज में इस्तेमाल हो रही मलेरिया रोधी दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वाइन  की आपूर्ति की मांग करते हुए चेतावनी दी थी कि यदि भारत आपूर्ति नहीं करता है तो हम इसका जवाब देंगे.वहीं मंगलवार को नयी दिल्ली में विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत ने पड़ोसियों सहित कई देशों को मामला-दर-मामला के आधार पर हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन का निर्यात करने का फैसला लिया है और वह कोरोना वायरस महामारी के रोकथाम के लिए अपनी प्रतिबद्धता बनाए रखेगा। हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन एक पुरानी और बेहद कम मूल्य की (सस्ती) दवा है जिसका इस्तेमाल मलेरिया के इलाज में होता है।ट्रंप ने कोरोना वायरस टास्कफोर्स से बात करते हुए कहा, इंडिया के अमेरिका के साथ संबंध काफी अच्छे हैं और मुझे इसके पीछे कोई वजह समझ नहीं आती कि भारत इस दवा को क्यों नहीं भेजेगा. उन्होंने कहा, मैंने यह नहीं सुना है कि दवा पर प्रतिबंध लगाना पीएम मोदी का फैसला था. मुझे पता है कि उन्होंने दूसरे देशों के लिए इस पर प्रतिबंध लगाया है लेकिन भारत और अमेरिका के संबंध काफी अच्छे हैं और पीएम मोदी ने है कहा है कि वह हमारी मांग को कंसिडर करेंगे.

 

Total Page Visits: 1830 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *